गाँव वालो के सहयोग से एक अनाथ हरिजन बच्ची शादी की धूमधाम से

 मेरे गाँव करेल (सवाई माधोपुर)मे पहली बार एक गरीब दलित हरिजन व बिन पिता की पुत्री की शादी में कर्मचारियों व गाँव वालों के सम्पूर्ण योगदान ( 1 लाख 31 हजार रुपये ) का सहयोग हुआ जो एक इतिहास लिखा गया है। इसमें गाँव वालों ने भी बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया व शादी मे मंडप से लेकर बारातियो तक की खाने पीने की पूरी व्यवस्था म सम्माननीय श्री सीताराम मीना जी खाल्या की ढाणी के द्वारा की गई , जो कि एक बहुत ही सराहनीय कार्य है । बस्ती माता के ऐसे सपूतो को बार बार कोटि कोटि धन्यवाद…………..जय हो करेल बस्ती माता की !

गाँव करेल महान गाँव के लोगों ने फिर प्रस्तुत की मिशाल, ग्राम वासियों ने थोड़े दिन पहले स्कूल भवन के लिये रु 22.88 लाख एकत्रित कर एक मिशाल प्रस्तुत की थीं, आज फिर गाँव के कर्मचारियों व ग्राम वासियों नें एक प्रशंसनीय उदाहरण प्रस्तुत किया हैं,

गाँव में एक बिना माता पिता की हरिजन परिवार की लड़की सोनु की शादी के लिये कन्यादान स्वरुप रु 1.31 लाख के आर्थिक सहयोग साथ ही बारात व मेहमानों के खाने पीने की पूर्ण व्यवस्था के साथ बारात की विदाई तक का पूर्ण खर्चा उठाया गया

इसके साथ ही ग्रामीणों द्वारा बिना भेदभाव किये तन मन और धन से सहयोग किया गया एवम् बढ़ चढ़ कर भाग लेकर नया कीर्तिमान प्रस्तुत किया जो बहुत ही तारीफें काबिल प्रयास हैं, यदि इस प्रकार के सेवा भाव के कार्य किये जावे तो नये समाज का सृजन किया जा सकता हैं

शेयर करे
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

प्रातिक्रिया दे