मीना समाज में व्याप्त कुरीतियों का उन्मूलन वर्तमान समय की माँग है

  • मीना समाज में समय रहते रुढिवादी विचार धाराओ एवं कुरीतियों का उन्मूलन करना चाहिए क्योंकि ये सब समाज के विकास में बाधक बने हुए है।

चाहे दहेज प्रथा की बात हो या नुक्त,तीया,मिलणी आदि।समाज को इनसे विमुक्त होकर आने वाली पीढी़ के लिए शिक्षा का होना नितान्त आवश्यक है और समाज को वर्तमान स्थिति को ध्यान में रखते हुए समाज हित में शैक्षिक संस्थानों की स्थापना कर समाज निर्माण के लिए कुछ कार्य करने का संकल्प लें।

 

Facebook Comments

Leave a comment