ऐ इंसान सुन इंसानियत की हत्या हो रही है……..

एक महत्वपूर्ण पोस्ट जरूर पढ़ें और शेयर करें…..जैसे ही इस भारत देश की जनता को पता चला कि श्री देवी की मौत हो गयी है तो देश का तथाकथित सभ्य समाज ग़म में डूब गया…. श्री देवी की मौत पर हमारे देश के राष्ट्रपति से लेकर प्रधानमंत्री तक, नेता से लेकर अभिनेता तक, मध्यम वर्ग से लेकर उच्च वर्ग तक… सभी लोगों ने श्री देवी की मौत पर शोक प्रकट किया… और श्री देवी की मौत के बहाने मीडिया को भी अपनी टीआरपी बढ़ाने का मौक़ा मिल गया…. जब से श्री देवी की मौत की ख़बर आयी है तब से न्यूज़ चैनलो से लेकर सोशल मीडिया के विभिन्न प्लैट्फ़ॉर्मों पर केवल श्री देवी ही छायी हुई है….. दोस्तों श्री देवी की मौत पर हर देशवासी को दुःखी होने का हक़ और उन्हें इस अदाकारा की मौत पर दुःखी भी होना चाहिए… मुझे भी जैसे ही पता चला कि श्री देवी की मौत हो गयी है तो दिमाग़ ने तुरंत प्रतिक्रिया करते हुए कहा – यह तो बहुत बुरी ख़बर है….

वीडियो लिंक:- https://youtu.be/AEViWqeFUNI

लेकिन मेरा यह विडियो उन लोगों, नेताओं, अभिनेताओं और मीडियाकर्मियों के लिए है, जो इस देश में धर्म, जाति, वर्ग और वोट बैंक को आधार बनाकर शोक व्यक्त करते है…. मेरा यह विडियो उन लोगों के लिए है जो जीवन में दोहरे मापदंड अपनाते है…. …. इस देश में रोज सैकड़ों लोग ग़रीबी, भुखमरी और बीमारी की वजह से मर रहे है….बॉर्डर पर सैनिक मर रहे है…. क़र्ज़ के बोझ तले किसान मर रहे है….. लड़कियों की रेप करके हत्या की जा रही है…. युवा बेरोज़गारी के कारण सड़कों पर मर रहे है या आत्महत्या कर रहे है…. लेकिन सब लोग ख़ामोश है…..नेता चुप है…. अभिनेता चुप है…. मीडिया चुप है और साथ में सभ्य समाज भी चुप है……..
केरल में मधु नामक आदिवासी युवक को भीड़ द्वारा केवल इसलिए मार दिया जाता है क्योंकि उसने पेट भरने के लिए मुट्ठी भर चावल चुराए थे…. यूपी में एक दलित लड़की को केवल उसकी जाति की वजह से जला दिया जाता है…. बिहार बीजेपी का एक महामंत्री नशे में कार ड्राइव करते हुए 9 बच्चों को कुचल कर मार देता है ….. यूपी में 12 साल की दलित बच्ची भूख की तड़प बर्दाश्त ना कर पाने के बाद आत्महत्या कर लेती है….. झारखंड में आधार कार्ड राशन की दुकान पर लिंक नहीं होने पर एक ग़रीब माँ को चावल नहीं मिलता है और उस ग़रीब माँ की मासूम बच्ची संतोषी ‘भात खाना है-भात खाना है’ करते हुए दम तोड़ देती है….. एक आदिवासी महिला की लाश को उसका पति 9 km तक कंधे पर लाद कर ले जाता है….. एक गर्भवती महिला को हॉस्पिटल में एडमिट नहीं किया जाता है और वो खुले में बच्चें को जन्म दे देती है…..एसएससी भवन के सामने हज़ारों छात्र ऑनलाइन पेपर लीक होने के ख़िलाफ़ विरोध प्रदर्शन कर रहे है और इन सभी घटनाओं पर आप, आपके नेता और आपकी भांड मीडिया चुप रहते है….. आप, आपके नेता और आपकी भांड मीडिया इस देश की जनता को क्रमशः प्रिया प्रकाश वोरियर, श्री देवी की मौत, जैसे उजुल-फ़िज़ूल ख़बरों और हिंदू-मुस्लिम की ख़बरों या पाकिस्तान-चीन से भारत के तनाव की ख़बरों में उलझा कर रखते है।
.
वीडियो लिंक:- https://youtu.be/AEViWqeFUNI
.
लेकिन आप लोग कभी भी ग़लत के ख़िलाफ़ नहीं बोलते हो… अगर आप बोलते भी हो तो बड़े सलेक्टिव हो कर बोलते हो…. मैं आपको राष्ट्रवादी क्रिकेटर सहवाग का एग्ज़ाम्पल देता हूँ…. सहवाग ने केरल की घटना पर तुरंत tweet कर दिया लेकिन सहवाग का दुःख यूपी और झारखंड की घटनाओं पर व्यक्त नहीं हुआ….. आप लोगों की, आप लोगों के नेताओ की और आप लोगों के भांड मीडिया की यह जो प्रकृति है ना वो ही देश के लिए हानिकारक है…… इस मीडिया ने पिछले 3-4 दिन में जितनी ख़बरें श्री देवी की मौत की दिखायी है…. यदि उतनी ख़बरें जज लोया की मौत की दिखायी होती तो अब तक जज लोया केस की मिस्ट्री सुलझ गयी होती….. सोचने वाली बात है कि एक कलाकार की मौत पर पूरा देश शोक में है लेकिन उन शहीदों की पत्नियों का दर्द कौन जाने, जिनकी कोख में बच्चे है……. दोस्तों श्री देवी की मौत के दिन ही दुनिया में एक घटना और घटती है….. वो घटना श्री देवी की मौत से भी महत्वपूर्ण होती है लेकिन किसी मीडिया चैनल ने वो ख़बर नहीं दिखायी…. सीरिया में सैकड़ों मासूम बच्चों को मार दिया जाता है लेकिन आप लोगों की, आपके नेताओं की और आपके दलाल मीडिया की इंसानियत मर चुकी है इसलिए आप लोग उन बच्चों के लिए एक शब्द भी नहीं बोलते हो….. एक बार सीरिया में हुए हमलों की तस्वीर देखिए…. आप की आँखें नम हो जायेगी…. लेकिन आपके मीडिया ने आप तक यह ख़बर पहुँचायी नहीं क्यूँकि वो हिंदू-मुस्लिम और श्री देवी की मौत की ख़बरें दिखाने में बिजी है… दोस्तों वास्तविकता यह है कि आप, आपके नेता और आपकी भांड मीडिया बड़ी सलेक्टिव है क्योंकि यह हमला यदि सीरिया की जगह अमेरिका, लंदन, जर्मनी, फ़्रान्स जैसे विकसित देशों में होता तो आप तुरंत अपनी डीपी पर ब्लैक फ़ोटो लगा लेते या फिर ऑनलाइन कैंडल जला देते ….. लेकिन आप लोग सीरिया पर चुप हो क्योंकि आप की और आपके नेताओं की इंसानियत मर चुकी है….. दोस्तों एक बार उन मासूम बच्चों की जगह अपने बच्चों को रख कर देखिए तब शायद आपको उनके दर्द का एहसास होगा….. सीरिया में रहने वाली एक माँ ने बयान देते हुए कहा कि मैं दुआ करती हूँ कि मेरे बच्चों को मौत आ जाएँ क्योंकि मैं उन्हें तड़पता हुआ नहीं देख सकती…. अब आप ही बताइए उस माँ पर क्या बीत रही होगी जो अपने बच्चों के लिए मौत की दुआ माँग रही हो….वैसे सीरिया में तो इंसानो के शरीर ही जल रहे है लेकिन मेरी नज़र में दुनिया की आत्मा जल रही है…. सीरिया में ज़ुल्मों सितम की इंतहा हो रही है…. ए इंसान सुन इंसानियत की हत्या हो रही है…. सीरिया में बच्चों की चीख़ें गूँज रही है…. वो चींखे मदद के लिए इंसान को पुकार रही है… ए इंसान अब तू इन बच्चों की मदद के लिए आगे बढ़…..!
.
जो लोग आज चुप रहकर इंसानियत की हत्या का तमाशा देख रहे है…. हो सकता है कि एक दिन आप स्वयं तमाशा बन जाओ….सोचिए एक दिन अगर इन मासूम बच्चों ने आपसे पूछा कि आप लोग हमारे ऊपर होने वाले अत्याचारों पर चुप क्यों थे तो आप उन्हें क्या जवाब दोगे….? इसलिए दोस्तों अत्याचार करने वालों के ख़िलाफ़ आवाज़ उठाइए और इन बच्चों की मदद के लिए आगे आइए….!
.
इसे मानवता और इंसानियत के नाते अधिक से अधिक शेयर करें।

Facebook Comments

Leave a comment