अपने गाँव वालों को जरूर बताये-श्रमिक कार्ड के फायदे

दोस्तों जागरूकता ही विकास की मुख्य सीढ़ी है हम प्रत्यक्ष रूप से नहीं तो अप्रत्यक्ष रूप से लोगों की बेहतरी में युगदान दे सकते है हम युवा गॉव के लोगों को श्रमिक कार्ड के बनवाने के बारे में और इसके अनगिनत फायदों के बारे में जानकारी देकर गॉव वालो को सरकारी योजनाओं का लाभ दिला सकते है

इसलिए मेरा सभी शिक्षक मित्रो से निवेदन है कि अपने अपने विद्यालय मे सभी छात्र छात्राओ को श्रमिक कार्ड के फायदे बताए और इनके कार्ड बनवाने को कहें अगर इनके माता-पिता के इस वर्ष के परीक्षा परिणाम से पहले काड॔ बन जाता है तो सभी को इस वर्ष कि छात्रवृत्ति मिल जाएगी!

इसके अलावा #सभी जागरूक युवाओ# से भी विनम्र निवेदन है कि आप अपने गांव में मीटिंग कर गॉव वालो को इस सबंध मे जरूर जानकारी उपलब्ध कराकर लाभान्वित करवाए

श्रमिक (मजदुर) कार्ड के फायदे*

1. लड़के के जन्म पर 20 हजार रुपये,
लड़की के जन्म पर 21 हजार रूपये मिलेंगे
(अधिकतम 2 बच्चों के जन्म पर )

2. श्रमिक कार्डधारी के बच्चो को पढ़ाई में मिलने वाली छात्रवर्ती
कक्षा 6 से 8 :- 8000 रुपये
कक्षा 9 से 12 :- 9000 रुपये
आईटीआई :- 9000 रुपये
डिप्लोमा :-10000 रुपये
बीए (BA) :-13000 रुपये
एमए (MA) :-15000 रुपये की छात्रवर्ती पढ़ाई करने वाले छात्र (लड़के) को मिलेगी । लड़को को मिलने वाली राशि से 1000 रुपये अधिक छात्रा (लड़की) को मिलेगी ।

3. शुभशक्ति योजना- लड़की कि उम्र 18 वर्ष की होने पर तथा 8वी पास होने 55 हजार रूपये की सरकारी सहायता मिलेगी। (लड़की 8वीं पास हो, उम्र 18साल हो, श्रमिक कार्ड बने हुए 6 माह हो गए हो )
अधिकतम 2 लड़कियों को ही मिलेगी

4. जमीन का पट्टा होने पर 1 लाख 50 हजार की सहायता

5. दुर्घटना होने पर 30 हजार से 3 लाख तक की सरकारी सहायता!

6, सामान्य मृत्यु होने पर 2 लाख रुपये सहायता !

7, दुर्घटना मृत्यु पर 5 लाख सरकारी सहायता

श्रमिक कार्ड बनवाने की उम्र अवधि:-

18 वर्ष से 60 वर्ष की उम्र तक कोई भी पुरुष या महिला ये श्रमिक कार्ड बनवा सकते हैं ।

श्रमिक कार्ड बनवाने के लिये आवश्यक दस्तावेज :-

आधार कार्ड, राशन कार्ड, बैंक पासबुक, स्व घोषणा प्रमाण पत्र और 1 फ़ोटो।

Facebook Comments