जाने क्यों फ्लॉप शो साबित हुआ- आरक्षण खत्म करने वाला भारत बंद

जैसा कि आप सभी को विदित है कि आज 10 अप्रैल को देश भर के सवर्ण वर्गों ने 02 अप्रैल को दलितों द्वारा किये गए भारत बंद के जबाब में…

Continue Reading

क्या वास्तव में 2 अप्रैल को भारत बंद हैं, हमसे नहीं अपनी आत्मा से पूछिये !

क्या वास्तव में "2 अप्रेल को भारत बंद" है? #मुर्दा कौम बनकर इंतज़ार मत कीजिये# एक स्वतः स्फूर्त भारत बंद का आह्वान इन दिनों आग की तरह फैलता जा रहा…

Continue Reading

आम लोगों के मन में पढ़े लिखे सरकारी मास्टरों की जगह, प्राइवेट टीचरों की कद्र ज्यादा क्यों

सरकारी_अध्यापकों_के_प्रति_लोगों का नज़रिया मैंने व्यक्तिगत तौर पर ऐसे बहुत से सरकारी स्कूल देखे हैं जहाँ शिक्षक मन से पढ़ाते हैं। साथी शिक्षकों की तरफ से मिलने वाले उलाहने को दरकिनार…

Continue Reading

जाग रहा था मन सो रहा था तन(किसान की वेदना)

जाग रहा था ख्यालो में सो रहा था तन, गला रुन्द रहा था रो रहा था मन...... जब निकलेगी किरणे तो देखेंगे अपने सपनो को, पेट के लिए हमने मिट्टी…

Continue Reading

किस किस का दर्द लिखूँ मैं.. रीपब्लिक डे !

हर साल 26 जनवरी आते ही एक अजब सी खुशी सा अहसास होता है । हर तरफ राष्ट्रीय गीत बजते रहते हैं । स्कूलों में नन्हें-नन्हें बच्चे रंग-बिरंगे प्रोग्राम पेश…

Continue Reading

SC ST में क्रिमीलेयर की आवाज़ – वक्त की जरूरत या फिर संविधान के साथ खिलवाड़

दोस्तों, आज मैं सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश को पढ़कर बेहद आहत हूँ, इस इश्यू को मध्य नजर रखकर ही कुछ कटू बोल, बोल रहा हूँ, लेकिन हम सभी के…

Continue Reading

पाकिस्तान : एक अमानवीय चेहरा

पाकिस्तान की नापाक हरकतों से पूरी दुनिया वाकिफ है। पाकिस्तान हमेशा से ही आतंकवादि गतिविधियों का केंद्र रहा है। ऐसे अनेक मौके आये जब पाकिस्तान का क्रूर चेहरा सबके सामने…

Continue Reading

एक शहीद की आत्मा

जब 1991 में मेरी शादी कैप्टन शफीक़ गौरी से हुई तो मेरी उम्र 19 साल थी. उनके अक्सर तबादले होते रहते थे और वो मुझसे लंबे समय के लिए दूर…

Continue Reading