कहीं दूसरा कन्हैया कुमार ना बन जाये मनीष मीणा, इसलिए डरी हुई पूरी केंद्र सरकार

एक चिंगारी और एक विचार, जो कभी खत्म नही हो सकता। आप जब प्रग्रतिशील भाषण देकर किसी सभा या सेमिनार मे आ जाते हो, लेकिन जब आपकी जरूरत आपके लोगो…

Continue Reading

जातीय जनगणना

2011 में जब जनगणना हुई थी तब जातीय आंकड़े भी जुटाए गये थे। लेकिन 4 साल बाद भी मोदी सरकार इनको उजागर नहीं कर रही है। इसका मकसद सूचनाओ को…

Continue Reading

ईमानदारी से नोकरी के साथ अपना एवम समाज का नाम रोशन किया अलवर जिले के लक्ष्मणगढ़ तहसील के गढ़ी के पास एक छोटे से गांव मंजवाड के होती लाल मीणा ने,

मीना कही भी हो अपनी ईमानदारी और कर्तव्य को इस कदर निभाते है कि उनके वरिष्ठ अधिकारी भी उनका नाम लेते नही थकते, एक ऐसा ही माजरा आपको इस वीडियो…

Continue Reading

खलनायक तो बहुत है जननायक बस एक

"खलनायक तो बहुत है, जननायक बस एक उनका राजस्थान में करें हम मिलकर अभिषेक ! सत्य अहिंसा क्रांति का ,जो देता सन्देश वही किरोड़ी लाल है,जो सबके मन में शेष…

Continue Reading

जाग रहा था मन सो रहा था तन(किसान की वेदना)

जाग रहा था ख्यालो में सो रहा था तन, गला रुन्द रहा था रो रहा था मन...... जब निकलेगी किरणे तो देखेंगे अपने सपनो को, पेट के लिए हमने मिट्टी…

Continue Reading

आदिवासी तेरा शोषण

~~~~~~~आदिवासी तेरा शोषण~~~~~~ जिस आरक्षण के वृक्ष तले तुमने छाया और फल खाया है उसकी जड़ो मे दुश्मन ने तेजाब आज गिरवाया है! जिसके पैरो को तुम पुजो वह सिर…

Continue Reading

मैं छोटे छोटे सपने देखता हूँ, बड़े सपने देखकर अपनी आँखें क्यो बोझिल करू..

मुझे छोटे-छोटे सपनो को चुनने की आदत है इसलिए मैंने बड़े सपने देखकर आँख को कभी बोझ नही दिया।मेरे बड़े लोग आदर्श भी नही रहे है।महात्मा गाँधी,महात्मा बुद्ध,अकबर,राणा प्रताप,नेपालियन ,हिटलर…

Continue Reading

आदिवासी क्षेत्रों में खुलने वाले एकलव्य स्कूलों की ये होगी खासियत !

भारत के वित्तमंत्री अरुण जेटली ने साल 2018 के बजट सत्र में शिक्षा को लेकर कई अहम फैसले सुनाए जिनमें से आदिवासी क्षेत्रों में ‘एकलव्य स्कूल’ खोलने की योजना भी…

Continue Reading
1930 से 1960 तक के मीणा संघर्ष पर एक नज़र
आदिवासी महा पुरुष

1930 से 1960 तक के मीणा संघर्ष पर एक नज़र

1930 से 1960 तक मीणा संघर्ष पर एक नजर ग्रुप में मैंने एक पोस्ट पढ़ी की "मीणा समाज में अब तक महापुरुष किसको कहा जा सकता है ?" तो लोग…

Continue Reading

संघर्ष की जीती जागती मिशाल-किरोड़ी लाल

संघर्ष की जीती जागती मिशाल-किरोड़ी लाल छात्र राजनीति से लेकर एक बड़े कद्दावर नेता बनने तक का सफर अपने आप मे अनूठा हूं!जननायक बनने का सफर आसान भी नही रहा!सफलता…

Continue Reading

राज्यसभा टीवी में नहीं रही देश के आदिवासियों की आवाज, पद का दिया त्याग !

नए उपराष्ट्रपति के आसीन होने के बाद से ही अटकलें लगाई जा रही थी कि उनके अधीन आने वाले राज्यसभा टीवी में भी अब बड़ा फेरबदल देखने को मिलेगा। उपराष्ट्रपति…

Continue Reading

किस किस का दर्द लिखूँ मैं.. रीपब्लिक डे !

हर साल 26 जनवरी आते ही एक अजब सी खुशी सा अहसास होता है । हर तरफ राष्ट्रीय गीत बजते रहते हैं । स्कूलों में नन्हें-नन्हें बच्चे रंग-बिरंगे प्रोग्राम पेश…

Continue Reading

राजस्थान उपचुनाव परिणाम से होगी प्रदेश से महारानी की छुट्टी !

( फोटो सौजन्य- सचिन पायलट द्घारा मांडलगढ़ निवासी मृतक मांगीलाल मीणा के परिवार के साथ शोक संवेदना बैठक व हत्या में न्याय की मांग की ! ) राजस्थान की एक…

Continue Reading

आरक्षण (प्रतिनिधित्व) के मूल अधिकार का औचित्य क्या है?

मैं वंचित वर्गों (अजजा) में शामिल हूं। करीब 21 वर्ष सरकारी सेवा में रहकर मैंने 2010 में स्वैच्छिक सेवानिवृति प्राप्त कर ली। कर्मचारी संगठनों सहित वंचित वर्ग के अनेक संगठनों…

Continue Reading

जो आज कहते हैं कि पदमावती हिन्दू थी, वो ये भी बतला दे कि फूलन देवी कौन थी ?

लुटती रही फूलन देवी की इज़्ज़त तब ये हिंदुत्व के ठेकेदार मौन थे आज जो कहते हैं की पद्मावती हिन्दू थी तो यह बताईये की फूलन देवी कौन थी सड़ती…

Continue Reading

SC ST में क्रिमीलेयर की आवाज़ – वक्त की जरूरत या फिर संविधान के साथ खिलवाड़

दोस्तों, आज मैं सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश को पढ़कर बेहद आहत हूँ, इस इश्यू को मध्य नजर रखकर ही कुछ कटू बोल, बोल रहा हूँ, लेकिन हम सभी के…

Continue Reading

यदि हैं किसान का खून तुम्हारे अंदर तो किसानों के लिए लड़ने की उम्मीद आप से करते हैं

किसान कर्ज से दबता जा रहा है और सरकारी योजनाओं का फण्ड बढ़ता जा रहा है लेकिन ना नदियों को नहरों से जोड़ा गया हैं और ही पीने को पानी…

Continue Reading

समाज में सकारात्मक लिखने वालों की कमी नहीं, बस जरूरत है मार्गदर्शन की

-मीणा समाज में दर्जनों साथी सोशल मीडिया पर बेहतर लिख रहे हैं। ---50 लेखकों के नाम सामने आए। --- महिलाएं भी लिख रही हैं। 17 जनवरी की पोस्ट के बाद…

Continue Reading

मुख्यमंत्री महोदया ने शोषलमीडिया के माध्यम से बजट प्रस्ताव मांगे

आगामी वित्तीय बर्ष के लिये बजट पूर्व चर्चाओं का दौर सुरु हो चुका है। अपने अपने क्षेत्र की समस्याओं के लिये बजट आवंटन हेतु प्रस्ताव स्वयंसेवी संस्था, जनप्रतिंनिधि  आम जनता…

Continue Reading