माधौपुर से अबकी बार- दीपक, दिया या फिर दानिश अबरार?

भाजपा ,कांग्रेस और सवाई माधोपुर पूर्वी राजस्थान की सबसे हॉट सीट माने जाने वाली सवाई माधोपुर विधानसभा सीट पर इस बार भी दिलचस्प चुनाव होने जा रहा है। दिलचस्प इसलिए की यंहा से जितने वाला उम्मीदवार कभी रिपीट नही हो पाया है चाहे वो कोई भी धुरन्धर किसी भी पार्टी से हो । एक ओर बात जो इस सीट को खास बनाती है जो भी यंहा से जीतता है उसी की राज्य में सरकार बनती है।

पिछला माहौल अब तक पैराशूट उम्मीदवारों के नाम

बात करे पिछले 15 सालों से यंहा के चुनाव की तो 2003 में भाजपा से पूर्वी राजस्थान के दिग्गज नेता डॉ किरोडी लाल ने कांग्रेस की दिग्गज नेत्री यास्मीन अबरार को अब तक के सर्वाधिक मतो के अंतर से पराजित किया था। 2008 में भाजपा से बगावत करके निर्दलीय चुनाव लड़ने वाले डॉ किरोडी लाल मीना को कांग्रेस से पूर्व नोकरशाह अल्लाउद्दीन आजाद ने पराजित किया जबकि भाजपा से लड़ने वाली पूर्व केंद्रीय मंत्री जसकोर मीना तीसरे नंबर पर रही । 2013 में अलग पार्टी बनाकर फिर से डॉ किरोड़ीलाल ने अपनी पसंदीदा सवाई माधोपुर सीट से किस्मत आजमाई लेकिन अबकी बार मोदी लहर में जयपुर राजघराने से आने वाली पैरासूट उम्मीदवार राजकुमारी दियाकुमारी से करीबी मतो से हार का सामना करना पड़ा । कांग्रेस से यास्मीन अबरार के पुत्र दानिश अबरार तीसरे नंबर पर रहे।

लेकिन अबकी बार यंहा के राजनैतिक,धार्मिक और जातिगत समीकरण एकदम अलग है ।वसुंधरा से सुलह और केंद्रीय नेतृत्व के करीबी होने के कारण दिग्गज डॉ किरोडी लाल वापस अपनी मूल पार्टी में लोट चुके है।

क्या रहेगा किरोडी लाल का कोई रोल

इस बार पूर्वी राजस्थान में भाजपा के टिकट बंटवारे और हार जीत में डॉ किरोडी लाल की महत्वपूर्ण भूमिका से इंकार नही किया जा सकता ।टिकट बंटवारे के थोड़ी सी भी गलती का भुगतान किसी भी पार्टी को हार के रूप में करना पड़ेगा ।
कांग्रेस से संभावित उम्मीदवारों में दानिश अबरार,पुर्व विधायक अल्लाउद्दीन आजाद के पुत्र अजीज आजाद, मुमताज अहमद में से कोई एक होगा । संभव है तीनो की आपसी खींचतान से परेसान कांग्रेस चौथे उम्मीदवार देवपाल मीणा की टिकट दे दे लेकिन इसकी सम्भावना बहुत कम है।

क्या दीपक मीणा होंगे किरोडी के चिराग

भाजपा से टिकट मांगने वालों की लिस्ट लंबी है। वर्तमान विधायक दियाकुमारी के बाद ग्राम पंचायत मैनपुरा सरपंच के पति , पिछले 9 सालों से डॉ किरोडी लाल के सवाई माधोपुर में हर रैली,कार्यक्रम की कमान सँभालने वाले सबसे वरिष्ठ कार्यकर्त्ता पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष दीपक मीणा का नाम सबसे आगे माना जा रहा है। इसके अलावा पूर्व प्रधान आशा मीणा , भूमि विकास बैंक के पूर्व अध्यक्ष कमल सिंह मीना, भाजपा सवाई जिला अध्यक्ष सुरेश जैन, मलारना डूंगर क्षेत्र से दीनदयाल (डीडी) मीना का नाम भी चर्चा में है।

सुनने में आ रहा है वर्तमान विधायक दिया कुमारी यँहा के राजनैतिक जातिगत समीकरणों को देखते हुए जयपुर के हवामहल से भी टिकट की माँग कर रही है।जो भी हो इस बार यंहा किसी भी पार्टी की जीत में मीणा समाज की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी ।
भाजपा यंहा से साफ स्वच्छ छवि वाले दीपक मीणा को टिकट देती है तो अवश्य ही जीत मिलेगी अन्यथा कांग्रेस की यंहा से जीत निश्चित है चाहे फिर कोई कितना ही जोर क्यों नही लगा ले ।

Facebook Comments