नरेश मीणा की राजनीति का कचूमर

#मै_18_साल_से_छात्र_राजनीति_में_हु_और_इस दौरान मैंने क्या #खोया_और_क्या_पाया…इस सबसे आप अनजान नहीं हो….मैंने जबसे होश समाला हैं, खुद को हमेशा आप सभी #युवाओं के बीच ही पाया हैं… अब आप सब ये मेरी उम्र की नादानी समझ सकते हो….या फिर मेरी ख्वाहिशों का जोश…कि 18 साल संघर्ष करने के बाबजूद भी, मैंने अब तक के #राजनीतिक_जीवन वो मुकाम हासिल नहीं कर पाया, जिस सबकी उम्मीद आप मेरे समर्थक होने के नाते, मेरे से करते हो…#शायद_मैंने भी कहीं ना कही, #कोई_गलतियां_की_ही_होगी… तभी तो मैं अब तक किसी भी #पार्टी_से_जुड़कर_आमजनों के हितों में उतना योगदान नही दे पाया,जितना कि आपको मेरे से उम्मीद करते हो…. मेरी उन नादानियों के लिए मैं आप सभी #समर्थकों_से_माफी_मांगता_हूं…और साथ ही आप सभी का #ताजीवन_शुक्रजार_रहूँगा….कि आप सभी, इन मुश्किलों के दौर में भी मेरे साथ रहे ..और उस वक्त तक भी मेरे #हौसलों_को_डगमगाने नहीं दिया जब कई #राजनीतिक_हस्तियो ने मेरे जीवन को #एक_फुटबॉल बनाकर बीच मझदार में छोड़ दिया था…वहीं कुछ लोग ऐसे भी आये जिन्होंने मुझे #खिलौना_समझ कर कभी इस पाले में पटक दिया…तो कभी उस पाले में….लेकिन #आप_सभी_समर्थको_की_दुआओं और परमेश्वर की कृपा से अब एक बार फिर #उन_स्वार्थी_राजनीतिक तत्वों के चुंगल से निकलकर मुझे #राजस्थान_की_जनता की सेवा करने का मौका मिल रहा हैं…. #जिंदगी_में इतने हिचकोले खाकर मै अब अपने अच्छे और बुरे की पहचान करना तो सीख ही गया हूँ…और मैं अपने उन #स्कूली_और_कॉलेज_साथियो_के_योगदान को कैसे भूल सकता हु, जिन्होंने #जवाहर_नवोदया_विद्यालय_और_मीना_हॉस्टल में मेरा साथ देकर मुझे अन्यान्य के ख़िलाफ़ लड़ना सिखाया…मेरे प्रथम गुरु तो आप_सभी_साथी ही हो…जिन्होंने मुझे #JLN_मार्ग पर निडर होकर चलना सिखाया और अब आप सबको विश्वास_दिलाता हूँ… कि अब मेरे जीवन का आने वाला एक एक पल, #राजस्थान_की_जनता और #युवाओं_के_बेहतर_भविष्य के लिए न्यौछावर रहेगा….

नरेश

मेरे जीवन में, मेरे लिए #देवदूत बनकर आये पूर्व #MLA_मुरारीलाल_मीणा_जी, #दानिश_अबरार_जी और #जी_आर_खटाना_जी_का_शुक्रिया_अदा_करने को शब्द ही नही है, कि मैं #आप_सबका_कैसे_शुक्रिया अदा करू… कि आप सबने मेरे जीवन के सबसे बुरे दौर में मेरे सर पर हाथ रखकर मुझे उस बहती मझधार से बाहर निकाला हैं… #जिसमे_सिर्फ_और_सिर्फ_आम_लोगों_के_खून_को चूसने वाले मगरमच्छ भरे हुए थे ..#

मेरे_जीवन_पर_राजस्थान_कांग्रेस_अध्यक्ष_सचिन_पायलट_जी_का_भी_बहुत_बड़ा_अहसाअब_कांग्रेस_पार्टी_से_जुड़कर अपना बचा हुआ पूरा जीवन आम _जनता_और युवाओं के बेहतर भविष्य के लिए समर्पित कर दूँगा… और काँग्रेस पार्टी जो भी जिम्मेदार देगी, उसे पूर्ण कर्तव्यनिष्ठा के साथ निभाने का प्रयास करूँगा…।

और मुझे मेरे इन इरादों को पूरा करने की सबसे बडी ताकत मिलती है, तो वो हो…आप सब मेरे हज़ारों युवा समर्थक…ये सब आप लोगो का ही आशीर्वाद हैं… कि हजारों साज़िशों के बाद भी में मैं आज राजनीतिक रूप जिंदा हु…..लेकिन अब मुझे आप सबके और भी बड़े स्तर पर प्यार और सहयोग की आश रहेगीं… जिससे मैं आप सबके आशीर्वाद से राजस्थान की जनता के हितों में पूरे जोश के साथ उठ खड़ा होयु…और मुझे मेरी सांसों से ज्यादा आप सभी युवाओं पर भरोसा हैं..कि आप सब चौगुने जोश के साथ मैं मेरा साथ ऐसे ही देते रहोगें, जैसे कि अब तक देते आये हो…मेरी दिली खाव्हिश हैं कि जिस दिन मैं कांग्रेस पार्टी जॉइन करू…उस दिन मेरा हर समर्थक…हर दिल अजीज़ भाई…मेरा हर पालनहार किसान औऱ मेरी साँसों में बसे हुये मेरे युवा और हॉस्टल साथी मेरे साथ खड़े होंगे..हम चाहते हैं कि गाँधीजी के पदचिन्हों पर चलते हुये उनके सत्याग्रह की भावना को पुनः जीवन्त करेगे…और किसानों की शोषक, बेरोज़ार भाईयो को भूखा मारने वाली इस वर्तमान सरकार को उखाड़ फेकेंगे, जो बड़े बड़े धन्ना लूटेरों की गुलाम सरकार हैं… जो झूठ, छलावे के अलावा सिर्फ और सिर्फ गरीबो को लूटना जानती हैं।

Facebook Comments