क्यो चल रहा है गंगापुर में रामकेश मीणा का जादू ?

जब मैं विधायक बना मैंने बिना किसी जाति और धर्म से भेदभाव किए समान रूप से काम किया
जब पूरा देश मोदी लहर से सराबोर था तो मैंने दिन रात एक कर के कांग्रेस प्रत्याशी मोहम्मद अजहरुद्दीन को गंगापुर विधानसभा क्षेत्र से जिता कर भेजा
“क्या एक अल्पसंख्यक को गंगापुर से जिता कर भेजना गुनाह था ?”
यदि गुनाह था तो हां रामकेश मीना गुनहगार है

जब 2 अप्रैल 2018 को मेरा दलित समाज जिसने मुझे बहुत प्यार दिया और मेरा आदिवासी समाज जिसमें मैंने जन्म लिया इन समाजों का बच्चा-बच्चा सड़क पर था उस आंदोलन में मैंने क्या-क्या झेला आप लोगों से छिपा नहीं है
मेरा कोई शौक नहीं था कि बीच बाजार में कपड़ा फड़वाउ और लाठियां खाऊं
लेकिन मैंने सोचा की रामकेश मीना की इज्जत भले ही चली जाए
रामकेश मीना जिंदा रहे या ना रहे
लेकिन समाज का स्वाभिमान जिंदा रहना चाहिए
क्या दलित आदिवासी समाज के लिए सड़क पर उतरना गुनाह था
?
यदि गुनाह था तो हां रामकेश मीना गुनहगार है

“”अल्पसंख्यको के हित में काम करना गुनाह है दलित और आदिवासियों के हक के लिए संघर्ष करना गुनाह है
तो हां मैंने इस जन्म में यह गुनाह किया है और ईश्वर से कामना करता हूं कि हर जन्म में मुझे इन समाजों में जन्म दे ताकि यह गुनाह में बार बार और हर जन्म में करता रहूं””

“”पूर्व चेयरमैन प्रकाश अग्रवाल की हत्या हुई तो मेरा पूरा परिवार उसके परिवार को न्याय दिलाने के लिए धरने पर बैठा

सर्व समाज के वे लोग जिन्हें गंगापुर शहर के रसूखदार लोगों ने सदा हाशिए पर रखा मैंने उन्हें इज्जत दी सम्मान दिया
क्या यह सब करना गुनाह था
यदि यह करना गुनाह था तो हां मैं गुनाहगार हूं””

लोकसभा चुनाव के बाद जब गंगापुर में कांग्रेस को पूछने वाला कोई नहीं था
कुछ लोग कांग्रेस को कमजोर करने के लिए तरह तरह के षड्यंत्र कर रहे थे “उस दौर में मैंने कांग्रेस पार्टी की सेवा उस तरह की जिस तरह कोई सपूत अपने बूढ़े मां बाप की करता है”

क्या पार्टी की इस तरह सेवा करना मेरा गुनाह था यदि गुनाह था तो इसकी सजा ऐसी मिलेगी मैंने सोचा भी नहीं था !!
मुझे पार्टी से कोई शिकायत नहीं होती पार्टी ने मुझे बहुत कुछ दिया
जब मैं विधायक बना मैंने बिना किसी जाति और धर्म से भेदभाव किए समान रूप से काम किया
जब पूरा देश मोदी लहर से सराबोर था तो मैंने दिन रात एक कर के कांग्रेस प्रत्याशी मोहम्मद अजहरुद्दीन को गंगापुर विधानसभा क्षेत्र से जिता कर भेजा
“क्या एक अल्पसंख्यक को गंगापुर से जिता कर भेजना गुनाह था ?”
यदि गुनाह था तो हां रामकेश मीना गुनहगार है

जब 2 अप्रैल 2018 को मेरा दलित समाज जिसने मुझे बहुत प्यार दिया और मेरा आदिवासी समाज जिसमें मैंने जन्म लिया इन समाजों का बच्चा-बच्चा सड़क पर था उस आंदोलन में मैंने क्या-क्या झेला आप लोगों से छिपा नहीं है
मेरा कोई शौक नहीं था कि बीच बाजार में कपड़ा फड़वाउ और लाठियां खाऊं
लेकिन मैंने सोचा की रामकेश मीना की इज्जत भले ही चली जाए
रामकेश मीना जिंदा रहे या ना रहे
लेकिन समाज का स्वाभिमान जिंदा रहना चाहिए
क्या दलित आदिवासी समाज के लिए सड़क पर उतरना गुनाह था
?
यदि गुनाह था तो हां रामकेश मीना गुनहगार है

“”अल्पसंख्यको के हित में काम करना गुनाह है दलित और आदिवासियों के हक के लिए संघर्ष करना गुनाह है
तो हां मैंने इस जन्म में यह गुनाह किया है और ईश्वर से कामना करता हूं कि हर जन्म में मुझे इन समाजों में जन्म दे ताकि यह गुनाह में बार बार और हर जन्म में करता रहूं””

“”पूर्व चेयरमैन प्रकाश अग्रवाल की हत्या हुई तो मेरा पूरा परिवार उसके परिवार को न्याय दिलाने के लिए धरने पर बैठा
सर्व समाज के वे लोग जिन्हें गंगापुर शहर के रसूखदार लोगों ने सदा हाशिए पर रखा मैंने उन्हें इज्जत दी सम्मान दिया
क्या यह सब करना गुनाह था
यदि यह करना गुनाह था तो हां मैं गुनाहगार हूं””

लोकसभा चुनाव के बाद जब गंगापुर में कांग्रेस को पूछने वाला कोई नहीं था
कुछ लोग कांग्रेस को कमजोर करने के लिए तरह तरह के षड्यंत्र कर रहे थे “उस दौर में मैंने कांग्रेस पार्टी की सेवा उस तरह की जिस तरह कोई सपूत अपने बूढ़े मां बाप की करता है”

क्या पार्टी की इस तरह सेवा करना मेरा गुनाह था यदि गुनाह था तो इसकी सजा ऐसी मिलेगी मैंने सोचा भी नहीं था !!
मुझे पार्टी से कोई शिकायत नहीं होती पार्टी ने मुझे बहुत कुछ दिया
लेकिन “बस इतना तो बता देती की पार्टी की मेरी परवरिश में ऐसी कौन सी कमी रह गई थी कि पार्टी ने मुझे इस तरह बीच मझधार में लाकर छोड़ दिया*”

विगत 5 सालों में वे मेहनतकश कार्यकर्ता जिन्होंने जिन्होंने कांग्रेस के बुरे वक्त में मेरे साथ कंधे से कंधा मिलाकर संघर्ष किया, जिन्होंने 2 अप्रैल को पुलिसिया आतंक को झेला

और “मेरे सभी शुभचिंतक और भाइयों मैं आपको बताना चाहता हूं कि सामूहिक रूप से आपका जो आदेश होगा उसे मैं ईश्वरीय आदेश मानकर स्वीकार करूंगा”

आपका
रामकेश मीणा
पूर्व विधायक गंगापुर सिटी

Facebook Comments